समाचार
श्रीलंका हमले में शामिल थे अमीर व्यापारी अल्हाज मोहम्मद के दो बेटे, गिरफ्तार

श्रीलंका में हुए आतंकी हमलों की छानबीन के दौरान कोलंबियाई मूल के संपन्न मुस्लिम मसाला व्यापारी अल्हाज मोहम्मद यूसुफ अब्राहिम को पुलिस ने हिरासत में लिया। उनके दो बेटों की पहचान आत्मघाती हमलावरों के रूप में की गई है। हमलों में अब तक 320 से ज्यादा लोगों की मौत होने की पुष्टि हो चुकी है।

एएफपी  की रिपोर्ट के अनुसार, अल्हाज श्रीलंका के व्यापार समुदाय का सम्मानित सदस्य है। वह राजनीतिक रूप से जनथा विमुक्ति पेरमुना पार्टी से भी जुड़ा था। श्रीलंकाई पुलिस के मुताबिक, अल्हाज के बेटों इम्साथ अहमद इब्राहिम (33) और इल्हाम अहमद इब्राहिम (31) ने हमलों की योजना बनाने और उसे अंजाम देने में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने कोलंबों के शांगरी-ला और द सिनेमन ग्रैंड होटलों में आत्मघाती हमला किया था।

अल्हाज को कोलंबो के उपनगर डेमाटागोडा में उसके घर पर से गिरफ्तार किया गया। उसको पकड़ने के दौरान हुए धमाके से तीन पुलिस अधिकारियों की मौत हो गई। सूत्रों के अनुसार, जब अधिकारी घर पर छानबीन कर रहे थे, तब अल्फाज के मुस्लिम भाइयों में से एक की पत्नी ने दूसरी तरफ रखी डिवाइस शुरू कर दी। उसी धमाके में तीन पुलिस अधिकारी मारे गए।

फर्स्टपोस्ट  के अनुसार, पुलिस अल्हाज मोहम्मद यूसुफ इब्राहिम और उसके तीसरे बेटे 30 वर्षीय इजास अहमद इब्राहिम से पूछताछ कर रही है। रिपोर्ट के अनुसार, अल्हाज के परिवार का सबसे छोटे बेटे इस्माइल अहमद ने इस्लामिक आतंकी शिविर में प्रशिक्षण लिया था और वो वर्तमान में सक्रिय है। वह पिछले साल हुए बौद्ध मंदिरों को नष्ट करने वाले हमलों में भी शामिल था।