समाचार
श्रीलंका में हिंसा के बाद फेसबुक, वॉट्सैप और यूट्यूब अस्थायी तौर पर किए गए बंद

श्रीलंका में हिंसा की घटनाओं के बाद सरकारी सूचना विभाग ने निर्देश जारी कर फेसबुक, वॉट्सैप और यूट्यूब जैसी सोशल मीडिया साइट्स को अस्थायी तौर पर बंद कर दिया है।

डेली मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, यह फैसला चिलवा और कुलियापिटिया क्षेत्र में भड़की साम्प्रदायिक हिंसा के बाद लिया गया। ईस्टर उत्सव हमले के बाद बहुसँख्यक सिंहली समुदाय और अल्पसँख्यक मुसलमानों के बीच तनाव बढ़ गया है।

चिला में रविवार को तनाव के बाद स्थिति चिंताजनक हो गई थी। वहां कुछ उपद्रवियों ने मस्जिदों और मुस्लिमों की कुछ दुकानों में पथराव कर दिया था। इसके बाद पूरे शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया।

इसी तरह कुलियापिटिया में भी मुस्लिमों की दुकानों और मस्जिदों में हमले किए गए। वहाँ पर भी कर्फ्यू लगा दिया गया। हालाँकि, अब दोनों शहरों से हालात सामान्य होने के बाद कर्फ्यू हटा लिया गया है।

अधिकारियों का कहना है, “अल्पसँख्यक मुस्लिम और बहुसँख्यक सिंहली समुदाय के बीच की हिंसा के बाद आधी रात से फेसबुक और वॉट्सऐप को प्रतिबंधित कर दिया गया था।” इसी तरह ईस्टर हमले के बाद भी सोशल मीडिया साइट्स को बंद कर दिया गया था।

श्रीलंका में आतंकी हमले के बाद सोशल मीडिया साइट्स पर कई सिंहली-बौद्ध राष्ट्रवादी समूहों ने मुस्लिम व्यापारियों के बहिष्कार और फिर से हमला करने जैसी आशँकाओं से प्रेरित संदेश फैलाए थे। वहीं, मुस्लिम समूह भी हमले के बाद सोशल मीडिया पर खुद को सँगठित कर रहे थे।