समाचार
खेल पारिस्थितिकी तंत्र को सशक्त करेगी सैन्य बलों की परंपरा- खेल मंत्री किरण रिजिजू

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा, “देश की समग्र खेल संस्कृति में सुधार के लिए सशस्त्र बलों की खेल परंपरा का इस्तेमाल किया जाएगा। टाइम्स ऑफ इंडिया  की रिपोर्ट के अनुसार, खेल मंत्री पुणे में आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट (एएसआई) और मुंबई में भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के क्षेत्रीय केंद्र के दौरे पर थे।

भारतीय सेना ने जिस तरह से प्रमुख खेल संस्थान एएसआई का प्रबंधन किया था, उस पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मंत्री ने रेखांकित किया कि मंत्रालय भारत के खेल पारिस्थितिकी तंत्र को मजबूत करने के लिए सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक बलों की ताकत का लाभ उठाएगा।

मई के अंत में खेल मंत्रालय का कार्यभार संभालने के बाद एएसआई पुणे और साई मुंबई की यात्रा से पहले रिजिजू ने नई दिल्ली में एनआईएस पटियाला, इंदिरा गांधी स्टेडियम और जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम का दौरा किया था। उन्होंने इस दौरान एथलीटों और कोचों से बातचीत की और उनसे जानकारी ली, ताकि सुविधाओं को और बेहतर किया जा सके।

रिजिजू ने कहा, “भारत में प्रतिभा की कमी नहीं है लेकिन हम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और बेहतर कर सकते हैं। मैं प्रतिष्ठित संस्थानों और मौजूदा सुविधाओं को देख रहा हूँ कि उन्हें किस तरह विश्वस्तर का बनाया जा सकता है। केवल इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में ही नहीं बल्कि खिलाड़ियों और कोच को मिलने वाली सुविधाओं, ट्रेनिंग, संसाधनों और खान-पान के मामले में भी।”