समाचार
बुलंदशहर में तेज रफ्तार बस ने फुटपाथ पर सो रहे तीर्थयात्रियों को कुचला, 7 की मौत

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में शुक्रवार तड़के सुबह दर्दनाक हादसे में चार महिलाओं और तीन बच्चों सहित सात लोगों को एक बस ने कुचल दिया, जिसमें सभी की मौत हो गई।

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, हादसे में मरने वाले वैष्णो देवी तीर्थयात्रा से लौटकर आ रहे थे और फुटपाथ पर सोने के लिए गांधी घाट पर रुक गए थे। पुलिस के अनुसार, सुबह 4 बजे के करीब नरौरा में गंगाघाट के पास एक तेज रफ्तार बस उन्हें रौंदकर गुजर गई, जिससे सातों लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया, “तीर्थयात्रियों को ले जाने वाली एक बस के कुछ यात्रियों ने फुटपाथ पर सोने का फैसला किया था। सुबह करीब चार बजे एक अन्य बस संभल से आ रही थी। वह कथित तौर पर तेज गति में थी, जो फुटपाथ पर सो रहे सात लोगों के ऊपर से गुजर गई। हादसा करने वाली बस को जब्त कर लिया गया है लेकिन चालक फरार है।”

पुलिस ने कहा, “शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।” आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, योगी आदित्यनाथ सरकार ने हादसे में मारे गए श्रद्धालुओं के परिजनों को 2-2 लाख रुपये मुआवजा राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने स्थानीय प्रशासन को हादसे के जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।