समाचार
उत्तर प्रदेश में महागठबंधन का अभियान देओबंद से शुरू, आदित्यनाथ की टिप्पणी

समाजवादी पार्टी (सपा)-बहुजन समाज पार्टी (बसपा)- राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) यह सभी गठबंधित पार्टियाँ आगामी लोकसभा चुनावों के लिए अपना संयुक्त अभियान उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के देओबंद से 7 अप्रैल से शुरू करेंगी, द न्यू इंडियन एक्सप्रेस  ने रिपोर्ट किया।

बसपा अध्यक्ष मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और साथ ही रालोद के प्रमुख चौधरी अजीत सिंह 2019 लोकसभा चुनावों के लिए अपनी पहली संयुक्त रैली देओबंद से शुरू करेंगे।

पश्चिम उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव पहले चरण में 11, 18 और 23 अप्रैल को होंगे। सूत्रों के अनुसार सभी सहयोगी पार्टियों का यह संयुक्त अभियान चैत्र नवरात्रि के दिनों में शुरू किया जाएगा जो 6 अप्रैल से शुरू होंगी।

सपा नेता व प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि इस संयुक्त अभियान के चलते सभी पार्टी प्रमुख उन बातों पर ज़्यादा ज़ोर डालेंगे जिससे समाज में ज़्यादा दिक्क्तें पैदा हुई हैं। उन्होंने आगे बताया कि घटक दलों के नेता बेरोज़गारी, जीएसटी को गलत ढंग से लागू करने, नोटबंदी और साथ ही किसानों की दिक्क्तों को मुख्यधारा में रखकर उसपर बात करेंगे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-बसपा-रालोद तिकड़ी के संयुक्त अभियान के लिए लखनऊ में कहा कि अभियान की शुरुआती जगह पार्टियों की प्राथमिकता दर्शाती है। देओबंद में एशिया का सबसे बड़ा इस्लामिक मदरसा है। योगी आदित्यनाथ लोकसभा चुनावों के लिए अपनी पहली रैली शकुंभरी देवी के मंदिर से शुरू करेंगे, टाइम्स ऑफ इंडिया  ने रिपोर्ट किया।