समाचार
जल्द ही अब विमान से भी कर सकेंगे फ़ोन कॉल, कानून मंत्रालय साफ करेगा रास्ता

कानून मंत्रालय द्वारा, हवाई यात्रा के दौरान कनेक्टिविटी हेतु मानदंड स्पष्ट करते ही दूरसंचार विभाग नियमों की जानकारी उपलब्ध करवा देगा। कानून मंत्रालय द्वारा इन मानदंडों का स्पष्टीकरण तथा नियमों की स्वीकृति एक सप्ताह के भीतर ही दी जाने की संभावना है।

केंद्रीय संचार मंत्री मनोज सिंह ने कहा, ” हवाई यात्रा के दौरान संचार के नियमों की स्वीकृति हेतु, हमने कानून मंत्रालय को आवेदन दिया है। मुझे आशा है कि सात से दस दिनों के अंदर हमें स्वीकृति प्राप्त हो जाएगी तथा स्वीकृति मिलते ही मैं इसकी जानकारी दूँगा।”

उल्लेखनीय है कि दिनांक 1 मई को दूरसंचार आयोग ने हवाई यात्रा के दौरान वॉइस तथा डेटा कॉल एवं डेटा सर्फ़िंग की स्वीकृति दी थी।
दूरसंचार विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि देश की जल सीमा के भीतर तथा विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र, दोनों ही क्षेत्रों में हवाई यात्रा के दौरान संचार हेतु संचार मंत्रालय वैश्विक नियमों का पालन करना चाहता है।

गौलतलब है कि देश की जल सीमा तट से 12 नॉटिकल मील ( करीब 22 किलोमीटर) तक तथा विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र तट से 200 नॉटिकल मील ( करीब 370.4 किलोमीटर) तक फैले हुए हैं। अधिकारी ने बताया, “दूरसंचार विभाग से आदेश मिलते ही, जल्द हम नागर विमानन मंत्रालय के साथ मिलकर आगे के कार्य की समय सीमा तय करेंगे।”