समाचार
लोकसभा चुनावों के लिए सोशल मीडिया पर भी आचार संहिता, दलों को देना होगा विवरण

चुनावों के लिए बढ़ते सोशल मीडिया के उपयोग को देखते हुए चुनाव आयोग ने सोशल मीडिया प्रयोग के लिए भी विशेष निर्देश जारी किए हैं। नामांकन के दौरान सभी उम्मीदवारों को अपने सोशल मीडिया अकाउंट जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर और यू-ट्यूब की पूरी जानकारी देनी होगी।

इसके अलावा सोशल मीडिया पर विज्ञापन के लिए भी राजनीतिक दलों को चुनाव आयोग से अनुमति लेनी होगी व बिना सत्यापन के किसी भी प्रकार का विज्ञापन किसी भी सोशल मीडिया मंच पर पोस्ट नहीं किया जा सकेगा। अपने खर्चों में सोशल मीडिया पर होने वाले खर्च को सम्मिलित करते हुए राजनीतिक दलों को व्यय विवरण देना होगा।

जैसा कि पहले रिपोर्ट किया गया था कि अपने प्रचार के लिए पार्टियाँ सैनिकों के चित्र का प्रयाग भी नहीं कर सकेंगे। साथ ही गलत समाचार प्रसारित करने के लिए दोषी पाए जाने पर राजनीतिक दल के विरुद्ध कार्यवाही भी की जाएगी।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि वॉट्सैप के लिए आयोग ने किसी प्रकार के दिशानिर्देश जारी नहीं किए हैं लेकिन चुनावों को ध्यान में रखते हुए वॉट्सैप पहले से ही सजग है, जानें कैसे