समाचार
‘अभिनंदन’ योजना के तहत कौशल विश्वविद्यालय हुतात्माओं के बच्चों को देगा शिक्षा

श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय ने अभिनंदन- वीर बलिदानी कृतज्ञता योजना के तहत देश की रक्षा में वीरगति को प्राप्त हुए जवानों के बच्चों को और वीरता पुरस्कार विजेता की विधवाओं और बच्चों को कौशल और औपचारिक शिक्षा देने का फैसला लिया है।

उनका कहना यह भी है कि सत्र 2019-20 से हुतात्माओं और वीरता पुरस्कार विजेताओं के बच्चों व विधवाओं को कौशल शिक्षा के लिए एक प्रतिशत अतिरिक्त सीट भी बनाई जाएँगी साथ ही सभी बच्चों का शिक्षा शुल्क, किताबों का खर्च, रहना, खाना और यात्रा का खर्च भी श्री विश्वकर्म कौशल विश्विद्यालय ही उठाएगा।

अभिनंदन वीर बलिदानी कृतज्ञता योजना के तहत सभी योग्य उम्मीदवार श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय में किसी भी प्रकार के चुन सकते हैं। विश्वविद्यालय ने बताया कि उम्मीदवारों की संख्या मौजूदा सीटों से ज़्यादा होने पर एक योग्यता क्रम सूची जारी की जाएगी जिसके तहत फिर बच्चों को विश्वविद्यालय में शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रवेश दिया जायेगा।

श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय योग्य बच्चों की शिक्षा के लिए सरकार द्वारा दी जाने वाली पूंजी का इस्तेमाल करने के साथ-साथ बच्चों की पढ़ाई में होने वाली लागत के लिए कोष भी बनाएगा। इस कोष में वह कॉर्पोरेट संस्थानों द्वारा दी जाने वाली मदद, आम जनता द्वारा मिलने वाली पूंजी अन्य मिलने वाले दान को रखा जायेगा और इसे बच्चों की शिक्षा के लिए इस्तेमल किया जाएगा।