समाचार
बलात्कार के आरोपी चिन्मयानंद को पूछताछ के बाद एसआईटी ने किया नजरबंद

कानून की छात्रा के साथ बलात्कार के आरोपी और भारतीय जनता पार्टी के नेता स्वामी चिन्मयानंद से शुक्रवार (13 सितंबर) को विशेष जाँच दल ने लगातार सात घंटे तक पूछताछ के बाद नजरबंद कर दिया।

द इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त विशेष जाँच दल ने इस मामले की जाँच करने और सबूत खोजने के लिए पूर्व सांसद से संबंधित दिव्य आश्रम को भी सील कर दिया है। चिन्मयानंद को उनके घर में बंद होने से पहले गुरुवार को एसआईटी ने सात घंटे तक पूछताछ की थी।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, “आश्रम के सभी कमरों को सील कर दिया गया है और केवल एक कमरे को खुला छोड़ दिया गया है। आश्रम के बाहर पुलिस बल की भारी तैनाती की गई है। साथ ही आरोपी और अन्य कमरों के बेडरूम से साक्ष्य लेने के लिए फॉरेंसिक टीमों को बुलाया जा रहा है।”

पूर्व केंद्रीय मंत्री से उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर में उनके संस्थान की ही एक छात्रा द्वारा लगाए गए यौन दुराचार के आरोपों पर पूछताछ की गई थी। हालांकि, 72 वर्षीय पूर्व केंद्रीय मंत्री ने इन आरोपों को खारिज करते हुए खुद को निर्दोष बताया है।