समाचार
शिवसेना ने श्रीलंका की तरह भारत में भी बुर्के़ पर प्रतिबंध की माँग उठाई

भाजपा के सहयोगी दल शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से श्रीलंका की तरह भारत में भी बुर्के़ पर प्रतिबंध लगाने की माँग की। भोपाल से साध्वी प्रज्ञा ने भी इसका समर्थन किया है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में संपादकीय लिखा कि प्रधानमंत्री मोदी से सवाल, रावण की लंका में हुआ, राम की अयोध्या में कब होगा? इस संपादकीय में लिखा गया कि श्रीलंका में राष्ट्रीय सुरक्षा के तहत ऐसा किया गया है। राष्ट्रहित के लिए भारत में भी बुर्क़ा और नकाब पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।

संपादकीय में आगे लिखा कि फ्रांस में भी आतंकी हमले होते हैं। वहाँ की सरकार के साथ-साथ न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में भी बुर्के पर प्रतिबंध लगा दिया गया। ऐसे में भारत क्यों पीछे है?

उधर, भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, “मोदी सरकार की अगुआई में आतंकवाद को रोकने में सरकार सफल रही है। ऐसे में बुर्के पर प्रतिबंध लगाने की कोई ज़रूरत नहीं है।” एनडीए के अन्य सहयोग रामदास अठावले ने कहा, “यह परंपरा का हिस्सा है। महिलाओं को बुर्क़ा पहनने का हक है। इस पर प्रतिबंध नहीं लगना चाहिए।”