समाचार
शिवसेना के समर्थन में 170 विधायक? राउत ने एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन का राग दोहराया

एक तरफ जहाँ कैबिनेट पोर्टफोलियो पर भाजपा-शिवसेना के बीच सुलह होने की गुंजाइश सुबह की रिपोर्टों में बताई जा रही थीं, वहीं दूसरी ओर अब शिवसेना के एनसीपी-कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने की बात ने ज़ोर पकड़ लिया है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार रविवार (3 नवंबर) को अपने मुखपत्र सामना के एक लेख में शिवसेना ने एनसीपी-कांग्रेस के साथ जाने की बात की है। शिवसेना ने बीजेपी को धमकाते हुए अपने लेख में लिखा “यदि बीजेपी ढाई साल के लिए आदित्य ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने की शर्त नहीं मानती हैं तो शिवसेना कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाएगी”।

लेख में शिवसेना यह भी साफ कर दिया कि शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी तीनों की सीटें मिला दें तो 170 होता है। क्योंकि भाजपा बहुमत में नहीं है इसलिए शिवसेना आसानी से बहुमत साबित कर सरकार बना सकती है।

शिवसेना के नेता संजय राउत ने भी एनसीपी-कांग्रेस के साथ सरकार बनाने की बात दोहराई है। शरद पवार की सराहना के साथ-साथ राउत ने शिवसेना के मुख्यमंत्री के शिवतीर्थ में शपथ लेने की बात भी कही।