समाचार
कानपुर के तोपखाने से निकलकर युद्ध क्षेत्र में जाएगा स्वदेश निर्मित ‘शारंग’

मोदी सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ प्रयास के तहत 155एमएम/45 क्षमता की ‘शारंग’ नामक तोप भारत में डिज़ाइन व निर्मित की गई है और अब यह कानपुर की फील्ड गन फैक्टरी व तोपखाने से भारतीय सेना को सौंपे जाने के लिए तैयार है, टाइम्स ऑफ इंडिया  ने बताया।

शारंग की गोल दागने की क्षमता इज़रायल द्वारा बनाई जाने वाली सोलतम गन के समतुल्य होगी। पूर्व में 130 की क्षमता से 155 का करके इस शस्त्र को उन्नत बनाया गया है।

“इस उन्नत करने की प्रक्रिया में बैरल बदला गया है जिससे अब यह 27 किलोमीटर की जगह 38 किलोमीटर की दूरी तक गोल दाग सकेगा।”, फील्ड गन पैक्टरी के प्रबंधक शैलेंद्र नाथ ने बताया। उन्होंने यह भी जोड़ा की यह तोप शत प्रतिशत स्वदेश निर्मित हथियार है।

केंद्र सरकार की क्रय प्रक्रिया में शारंग ने यह अनुबंध जीता था। बालासोर में 17 जनवरी 2019 को डीआरडीओ ने इस शस्त्र का परीक्षण किया था।