समाचार
जम्मू-कश्मीर- नेता शाह फैसल के खिलाफ नागरिक सुरक्षा कानून के तहत मुकदमा दर्ज

जम्मू-कश्मीर के पूर्व नौकरशाह और जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट (जेकेपीएम) के प्रमुख शाह फैसल के खिलाफ शनिवार को नागरिक सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पीएसए के तहत भड़काऊ भाषण देने और कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों को बिना ट्रायल के 3 महीने के लिए हिरासत में रखा जा सकता है। शाह आईएएस की नौकरी छोड़कर राजनीति में आए थे।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद शाह फैसल को पिछले साल 14 अगस्त को सीआरपीसी की धारा 107 के तहत हिरासत में लिया गया था। तब वह विदेश जाने की फिराक में थे। बाद में उन्हें हिरासत में लेकर एमएलए छात्रावास में रखा गया था। अभी यह तय नहीं हो सका है कि शाह फैसल को उनके घर में स्थानांतरित किया जाएगा या एमएलए छात्रावास में ही रखा जाएगा।

बता दें कि पीएसए के तहत जरूरत पड़ने पर तीन माह की हिरासत की अवधि को बढ़ाया भी जा सकता है। आमतौर पर इसे आतंकियों, अलगाववादियों और पत्थरबाजों की गिरफ्तारी के लिए इस्तेमाल किया जाता था। पहली बार इसके तहत मुख्यधारा के राजनेताओं के खिलाफ कार्रवाई हो रही है।