समाचार
जद(एस) ने कर्नाटक उप-चुनाव के बाद भाजपा को समर्थन देने की संभावना जताई

जनता दल (सेक्युलर) ने कर्नाटक में कांग्रेस का दामन थामने के बाद अब भाजपा का रुख किया है। उसने 5 दिसंबर को हुए उप-चुनाव में भाजपा को जरूरत पड़ने पर समर्थन देने की संभावना जताई है।

जद(एस) के वरिष्ठ नेता बसवराजी होराती ने कहा, “कुमारस्वामी और देवगौड़ा ने कहा है कि वे सरकार को नहीं गिरने देंगे। उनके बयान के आधार पर मेरा कहना है कि अगर बीजेपी के पास संख्या बल की कमी होती है तो पूरी संभावना है कि जेडीएस उनके शेष साढ़े तीन वर्षों के कार्यकाल के दौरान समर्थन दे सकती है। मैं अब भी इस पर कायम हूँ।”

उन्होंने कहा, “भाजपा, कांग्रेस और जद(एस) का कोई भी विधायक सरकार गिराने के लिए तैयार नहीं है और कोई मध्यावधि चुनाव नहीं चाहता है। विधायकों का मानना है कि उनका विधायक का पद शेष साढ़े तीन वर्ष के कार्यकाल तक रहे।”

बता दें कि जद(एस) के संरक्षक एचडी देवगौड़ा ने कहा था, “हम कर्नाटक में मध्यावधि चुनाव नहीं चाहते हैं। हम चाहते हैं कि सरकार अपना कार्यकाल पूरा करे क्योंकि इससे उन्हें पार्टी को मज़बूत करने का समय मिलेगा। उनके बेटे और पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने भी हाल में कहा था, “जेडीएस सरकार को नहीं गिराना चाहेगी।”