समाचार
पुलवामा में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया, एक जवान वीरगति को प्राप्त

जम्मू-कश्मीर में पुलवामा के जदूरा क्षेत्र में शुक्रवार (28 अगस्त) रात शुरू हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। 24 घंटे में यहाँ कुल सात आतंकवादियों का खात्मा किया गया। मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल होने के बाद एक सैनिक के वीरगति को प्राप्त करने की भी खबर है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, मारे गए आतंकियों की पहचान डालीपोरा पुलवामा निवासी आदिल हाफिज़, मुसपुना निवासी राउफ और द्रबगाम निवासी अरशिद के रूप में हुई है। आदिल 2019 से कश्मीर में सक्रिय था। राउफ और अरशिद एक हफ्ते पूर्व ही संगठन में शामिल हुए थे।

पुलिस की एक संयुक्त टीम, 50 आरआर और सीआरपीएफ ने खुफिया जानकारी के आधार पर जदूरा में आतंकियों की खोजबीन शुरू की। सुरक्षाबलों ने जैसे ही क्षेत्र का घेराव किया तो आतंकियों ने उन पर गोलीबारी करनी शुरू कर दी। इस पर सुरक्षाबलों की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई की गई।

पुलिस के आईजी कश्मीर विजय कुमार ने बताया, “पंच की हत्या में अल-बदर के जिला कमांडर शाकूर पारे और उसके साथी सुहेल भट का हाथ था। शोपियां के किलोरा गाँव में सुरक्षाबलों ने जिन चार आतंकियों को मार गिराया था, उनमें ये दोनों भी शामिल थे।”

ये सभी आतंकी एक मकान में छिपे हुए थे। जानकारी के बाद सुरक्षाबलों ने मौके पर पहुँचकर तलाशी अभियान शुरू किया, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। करीब तीन घंटे तक चली मुठभेड़ में चार आतंकी मारे गए। खबर यह भी है कि एक आतंकवादी ने आत्मसमर्पण भी कर दिया है।