समाचार
पुलवामा हमले में शामिल जैश आतंकी अबू सैफुल्ला सहित दो आतंकी मार गिराए गए

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शनिवार (31 जुलाई) तड़के आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हो गई। इसमें जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा पाकिस्तानी आतंकवादी अबू सैफुल्ला, जिसे अदनान, इस्माइल और लंबू के नाम से भी जाना जाता है, सहित दो आतंकी मारे गए।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर जोन के आईजीपी विजय कुमार ने बताया, “मुठभेड़ में आज बड़ा आतंकी सैफुल्ला मारा गया है। हालाँकि, अभी तक दूसरे आतंकी की पहचान नहीं हो सकी है। इस कार्रवाई के लिए सुरक्षाबल बधाई के पात्र हैं।”

कहा जा रहा कि सैफुल्ला 14 फरवरी, 2019 के पुलवामा सहित अन्य आतंकी हमलों की एक शृंखला में सम्मलित था। उसने ही पुलवामा हमले में उपयोग होने वाला आईईडी बनाया था। वह जैश के संस्थापक मसूद अज़हर से जुड़ा था। 2018 में उसने अंतरराष्ट्रीय सीमा से कश्मीर में घुसपैठ की थी। वह पाकिस्तान के पंजाब का रहना वाला था।

कश्मीर जोन पुलिस के मुताबिक, सुबह आतंकियों के नागबेरन और तरसर क्षेत्र के बीच पड़ने वाले डाचीगाम जंगल के पास होने की सूचना मिली थी। इस पर एसओजी, सेना की 55 आरआर और सीआरपीएफ 192 बटालियन के जवानों के संयुक्त दल ने तलाशी अभियान शुरू किया। इस पर आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी।

सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें दो आतंकी मारे गए। आतंकियों के शवों को सुरक्षाबलों ने अपने कब्ज़े में ले लिया है। मुठभेड़ स्थल से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद हुए हैं।