समाचार
केरल को बकरीद के दौरान पाबंदियों में छूट देने पर सर्वोच्च न्यायालय ने लगाई फटकार

बकरीद (ईद-उल-अज़हा) के दौरान कोविड-19 की पाबंदियों में छूट को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार (20 जुलाई) को केरल सरकार को फटकार लगाई। साथ ही चेतवानी दी कि अगर छूट की वजह से कोरोनावायरस संक्रमण फैलता है तो राज्य सरकार के विरुद्ध उचित कार्रवाई की जाएगी।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, सर्वोच्च न्यायालय ने कहा, “यह बड़ी चौंकानी बात है कि केरल सरकार ने व्यापारियों की लॉकडाउन में छूट देने वाली मांग को स्वीकार कर लिया।” हालाँकि, न्यायालय ने सरकारी अधिसूचना को रद्द करने से मना कर दिया।

न्यायालय ने कहा, “किसी तरह का दबाव भारत के नागरिक के सबसे मूल्यवान जीवन के अधिकार का उल्लंघन नहीं कर सकता। अगर किसी तरह की अप्रिय घटना हमारे संज्ञान में लाई जाती है तो उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। हम केरल को कांवड़ यात्रा को लेकर हमारे द्वारा दिए गए निर्णय पर ध्यान देने का निर्देश देते हैं।”

उधर, केरल सरकार ने अपने निर्णय का बचाव करते हुए कहा था, “15 जून से ही पाबंदियों में छूट दी गई थी और इसमें कुछ नया नहीं था।” उसने उन व्यापारियों की परेशानियों का ज़िक्र भी किया, जो बकरीद के दौरान अपने आर्थिक हालात के बेहतर होने की उम्मीद कर रहे थे।

बता दें कि केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने 17 जुलाई को एक प्रेसवार्ता में बकरीद के दौरान छूट देने की घोषणा की थी।