समाचार
ग्रीन कार लोन की ब्याज दरें कम, इलेक्ट्रिक वाहनों को एसबीआई योजना का सहारा

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने देश में कार्बन उत्सर्जन करने वाली कारों में कमी और इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए ग्रीन कार लोन लॉन्च किया है।

सीएनबीसी  की रिपोर्ट के अनुसार, देश में इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से यह कदम उठाया गया है। इनके ऋण की ब्याज दर मौजूदा ऑटो ऋणों की तुलना में 0.20 प्रतिशत कम होगी। एसबीआई ने एक बयान में कहा, “रणनीति के तहत ऋण लॉन्च के पहले छह महीने के लिए ऋण पर शून्य प्रसंस्करण शुल्क रखा जाएगा।”

एसीबीआई के प्रबंध निदेशक (आर एंड डीबी) पीके गुप्ता ने कहा, “हम ग्रीन कार लोन को पेश करके खुश हैं। कारों के प्रदूषणकारी वातावरण से छुटकारा दिलाने में यह इलेक्ट्रॉनिक वाहन अहम भूमिका निभाएंगे।”

उन्होंने कहा, “हमें भरोसा है कि एसबीआई ग्रीन कार लोन योजना ऑटो लोन सेगमेंट में एक परिवर्तन के रूप में काम करेगी। साथ ही ग्राहकों को इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को खरीदने के लिए प्रोत्साहित करेगी, जो कार्बन उत्सर्जन में सुधार करती है।”

अक्टूबर में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2017 के मुकाबले इलेक्ट्रॉनिक कार की बिक्री भारत में वित्तीय वर्ष 2018 में 40 प्रतिशत गिरी है। सालभर में सिर्फ 1200 ही ऐसे वाहन बिक पाए थे।