समाचार
सऊदी अरब ने पाकिस्तान के मानचित्र से गिलगित-बल्तिस्तान और पीओके को हटाया

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) कार्यकर्ता अमजद अयूब मिर्ज़ा ने बुधवार को कहा कि सऊदी अरब ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर और गिलगित-बल्तिस्तान को पाकिस्तान के नक्शे से हटा दिया है। उन्होंने इसको लेकर ट्वीट किया है।

उन्होंने एक तस्वीर भी ट्वीट की, जिसमें कैप्शन दिया था, “भारत के लिए सऊदी अरब का दिवाली उपहार, पाकिस्तान के नक्शे से गिलगित-बाल्तिस्तान और कश्मीर को हटा दिया गया।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, सऊदी अरब ने 21-22 नवंबर को जी-20 शिखर सम्मेलन के आयोजन की अपनी अध्यक्षता के लिए एक 20 रियाल बैंकनोट जारी किया है। यह बताया गया कि बैंकनोट पर प्रदर्शित विश्व मानचित्र में गिलगित-बाल्तिस्तान और कश्मीर को पाकिस्तान के कुछ हिस्सों के रूप में नहीं दिखाया गया है।

मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि सऊदी अरब का यह कदम पाकिस्तान को अपमानित करने के प्रयास से कम नहीं है।

विदेश मंत्रालय ने सितंबर में कहा था कि उन्होंने 15 नवंबर को होने वाले तथाकथित गिलगित-बाल्तिस्तान विधानसभा चुनावों के बारे में रिपोर्ट देखी है और इस पर कड़ी आपत्ति जाहिर की है।

विदेश मंत्रालय ने कहा, “भारत सरकार ने पाकिस्तान सरकार को कड़ा विरोध जताते हुए दोहराया था कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के साथ तथाकथित गिलगित और बाल्तिस्तान भारत का अभिन्न हिस्सा हैं।”

इमरान खान सरकार ने पहले पाकिस्तान का एक नया राजनीतिक मानचित्र जारी किया था, जिसमें दावा किया था कि गुजरात के जूनागढ़, सर क्रीक, गुजरात में मानवादार, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख उसका हिस्सा हैं।