समाचार
“शरद पवार क्या बोलते हैं इसे समझने के लिए 100 बार जन्म लेना पड़ेगा”- संजय राउत

दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद एनसीपी प्रमुख शरद पवार द्वारा महाराष्ट्र में गठबंधन वाली सरकार को लेकर चर्चा न होने जैसी बात कहकर उन्होंने शिवसेना की उम्मीदों पर पानी फेर दिया था। इस पर शिवसेना के सांसद संजय राउत ने तंज कसते हुए कहा, “शरद पवार क्या कहते हैं, इसे समझने के लिए 100 बार जन्म लेना पड़ेगा।”

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, संजय राउत ने पत्रकारों से कहा, “किसी को पवार और हमारे गठबंधन को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है। दिसंबर की शुरुआत में महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली एक सरकार होगी और यह एक स्थिर सरकार होगी। सरकार गठन को लेकर शिवसेना को कोई संदेह नहीं है पर मीडिया इस पर संदेह पैदा कर रही है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शरद पवार की तारीफ के सवाल पर उन्होंने कहा, “क्या गलत है अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पवार की तारीफ कर दी? इससे पहले मोदी ने सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया था कि पवार उनके राजनीतिक गुरु हैं इसलिए इसमें कोई राजनीति न देखें।”

उन्होंने निशाना साधते हुए कहा, “शिवसेना ही थी, जिसने महाराष्ट्र में भाजपा को खड़ा किया, उसे सीट दी और हमेशा अपने साथ रखा। अब भाजपा ने संसद में शिवसेना के सांसदों के बैठने की व्यवस्था बदल दी है। उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।”

बता दें कि सोमवार को एनसीपी प्रमुख के सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद राजनीतिक हलचल और अटकलें तेज हो गई थीं। हालांकि, शरद पवार ने मीडिया को बताया था कि दोनों पार्टी प्रमुखों के बीच महाराष्ट्र में सरकार बनाने जैसे किसी मुद्दे पर चर्चा नहीं की गई।