समाचार
रूस ने तैयार की कोविड-19 वैक्सीन, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटी को लगा टीका

रूस ने मंगलवार (11 अगस्त) को दावा किया कि उसने कोरोनावायरस की पहली वैक्सीन तैयार कर ली है। इसका टीका राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटी को लगाया गया। राष्ट्रपति का कहना है कि यह दुनिया की पहली सफल वैक्सीन है और रूसी स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी अनुमति दी है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, एएफपी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। वैक्सीन को मॉस्को के गामेल्या इंस्टीट्यूट ने तैयार किया है। रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 की गेम-कोविड-वैक लियो वैक्सीन को सफल बताया है। जल्द ही इसका उत्पादन भी शुरू हो जाएगा।

व्लादिमीर पुतिन ने बताया, “बेटी को कोविड-19 संक्रमण हुआ था और उसे ये नई वैक्सीन दी गई है। इसके बाद उसका तापमान बढ़ा लेकिन अब वो पहले से स्वस्थ है।” अधिकारियों ने बताया, “वैक्सीन की डोज मेडिकल अधिकारियों, अध्यापकों और दूसरे जिन्हें अधिक खतरा है, उन्हें दी जाएगी।”

अब अगर रूस की वैक्सीन को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) से स्वीकृति मिल जाती है तो यह दुनियाभर के लिए बड़ी राहत हो सकती है। रूस में अब तक नौ लाख मामले सामने आ चुके हैं और 15,000 से ज्यादा लोग जान गँवा चुके हैं।

स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने विस्तृत जानकारी देते हुए कहा, “रूस की वैक्सीन प्रभावी तरीके से काम करती है और अच्छी इम्यूनिटी पैदा करती है। इसके लिए सभी परीक्षण किए जा चुके हैं।

रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, “वैक्सीन परीक्षण के परिणाम सामने हैं और ये देखा गया कि इससे मरीज के शरीर में इम्यूनिटी पैदा होती है। अभी तक वैक्सीन को लेकर किसी मरीज में कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं देखे गए हैं। जो वैक्सीन बनी है, वो क्लिनिकल परीक्षण में 100 प्रतिशत सफल हुई है।”