समाचार
पश्चिम बंगाल में परिवार समेत संघ कार्यकर्ता की हत्या, दो दिन बाद भी नहीं मिला अपराधी

पश्चिम बंगाल में एक बार फिर राजनीतिक हत्या का मामला सामने आया है। विजयादशमी के दिन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े एक ही परिवार के सभी तीन लोगों की हत्या के समाचार ने सनसनी फैला दी है।

मरने वालों में एक गर्भवती महिला और छह साल का बच्चा भी शामिल है। घटना राजधानी कोलकाता से 200 किलोमीटर दूर मुर्शिदाबाद की है।

ज़ी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार (9 अक्टूबर) को मुर्शिदाबाद के जियागंज इलाके में आरएसएस के सदस्य बंधु प्रकाश पाल और उनकी पत्नी ब्यूटी पाल समेत छह साल के बेटे आनंदपाल का शव बरामद हुआ। तीनों को धारदार हथियार से मारा गया।

पुलिस ने शव बरामद करने के बाद छानबीन शुरू कर दी है। हालाँकि, दो दिन बाद भी पुलिस हत्यारे तक नहीं पहुँच पाई है और न ही हत्या का कारण ढूँढ़ पाई है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, हत्या की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी, जिसके बाद खून से लथपथ शव को पुलिस ने कमरे से निकाला। स्थानीय लोगों ने बताया कि पाल परिवार जियागंज में करीब छह साल पहले आया था। लोगों का दावा है कि हत्या में किसी करीबी का हाथ है। स्थानीय लोगों ने हत्याकांड की जाँच सीबीआई से कराए जाने की मांग की है।