समाचार
इराक में अमेरिकी सैन्य अड्डे पर हुआ रॉकेट से हमला, मध्य-पूर्व में तनाव बढ़ने की आशंका

इराक और अमेरिका के बीच अब भी स्थितियाँ बेहतर नहीं हुई हैं। इराक के दूरस्त क्षेत्र किरकुक में बने अमेरिकी सैन्य अड्डे पर गुरुवार रात रॉकेट से हमला हुआ। हालाँकि, हमले में किसी के मरने की खबर नहीं है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, इराकी और अमेरिकी सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि 27 दिसंबर के बाद के-1 बेस पर यह पहला हमला है। 27 दिसंबर को एक के बाद एक 30 रॉकेट दागे गए थे, जिसमें एक अमेरिकी कॉन्ट्रैक्टर की मौत हो गई थी।

अमेरिका ने इसका आरोप इराकी सेना के एक धड़े कतीब हिजबुल्ला पर लगाया था। अमेरिका ने इस हमले पर बदले की कार्रवाई करते हुए कतीब हिजबुल्ला के 25 लड़ाकों को ढेर कर दिया था। इसके बाद उसने ईरान के सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी को भी मार गिराया था।

तमाम चेतावनियों के बावजूद अमेरिका के ठिकानों पर इराक के हमले रुक नहीं रहे हैं। बीते दिनों बगदाद स्थित अमेरिकी दूतावास के नजदीक कई रॉकेट दागे थे।

बता दें कि पिछले महीने जनरल की हत्या के बाद ईरान और अमेरिका के बीच युद्ध जैसे हालात पैदा हो गए थे। ईरान ने इराक स्थित दो अमेरिकी सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया। अमेरिका से जवाब मिलने पर उसने संयुक्त अरब अमीरात के दुबई और इजरायल के हाफिया को निशाना बनाने की धमकी दी थी।