समाचार
विश्व में बढ़ता भारत का वर्चस्व, 2022 में करेगा जी-20 समिट की मेजबानी- मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (1 दिसंबर) को घोषणा की कि 2022 में आज़ादी के 75 वर्ष पूरे करने के साथ भारत जी-20 समिट (समूह-20 सम्मेलन) का मेजबान बनेगा। यह घोषणा अर्जेंटिना की राजधानी ब्यूनस आयर्स में आयोजित 2018 के समिट के समापन समारोह में की गई, प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया  ने रिपोर्ट किया।

जी-20 विश्व की 20 बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों का समूह है। इटली के प्रति प्रधानमंत्री मोदी ने धन्यवाद ज्ञापित किया क्योंकि पहले इस आयोजन का मेजबान इटली बनने वाला लेकिन फिर यह मौका भारत को मिला।

“2022 में भारत को स्वतंत्र हुए 75 वर्ष हो जाएँगे। इस विशेष वर्ष में भारत जी-20 समिट में दुनिया का स्वागत करेगा। भारत आइए, सबसे तेज़ी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में। जानिए भारत का समृद्ध इतिहास और विविधता और भारत के अतिथि सत्कार का लाभ उठाइए।”, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा।

जी-20 के सदस्य देश हैं- अर्जेंटिना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राज़िल, कनाडा, चीन, यूरोपीय संध, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मैक्सिको, रूस, सउदी अरबिया, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूके एवं यूएस और स्पेन तटस्थ अतिथि देश है। जी-20 देशों से 90 प्रतिशत विश्व उत्पाद व 80 प्रतिशत वैश्विक व्यापार होता है।