समाचार
प्रधानमंत्री मोदी शीर्ष जनरलों से- “समारोह, धूमधाम कम करें, भविष्य हेतु सेना तैयार करें”

प्रधानमंत्री मोदी ने भारत के शीर्ष सैन्य अधिकारियों के लिए एक रात्रिभोज की मेजबानी की। स्ट्रैट न्यूज़ ग्लोबल की रिपोर्ट के अनुसार इस रात्रिभोज में तीन और चार सितारा जनरलों को शामिल किया गया जिसमें उन्होंने स्पष्टट रूप से सैन्य नेतृत्व को भविष्य के युद्ध के लिए सशस्त्र बलों को तैयार करने और, “समारोह, धूमधाम और  तमाशा पर जुनून को कम करने”, के लिए कहा।

आपको बता दें कि रात्रिभोज प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 31 दिसंबर 2019 को आयोजित किया गया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने शीर्ष सैन्य अधिकारियों को भी अपव्यय को कम करने और रक्षा अधिग्रहण में दोहराव से बचने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि सशस्त्र बलों को जनशक्ति के बजाय प्रौद्योगिकी पर ज्यादा से ज्यादा निर्भर बनाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह क्षण भारतीय सशस्त्र बलों को पूरी तरह से बदलने के लिए है, क्योंकि भारत के रक्षा कर्मचारियों के प्रमुख (सीडीएस) के नेतृत्व में सैन्य मामलों के विभाग के निर्माण के बाद, सैन्य और नागरिक नौकरशाही के पास निर्णय के शीर्ष पर रहने का अवसर है बन रहा है।

गौरतलब है कि हाल ही में, भारत ने एक रक्षा कर्मचारियों के प्रमुख (सीडीएस) पद के लिए लंबे समय से लंबित मांग के निर्माण की आधिकारिक घोषणा की थी। भारत के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत सैन्य मामलों के विभाग के प्रमुख होंगे और सीधे रक्षा मंत्री को रिपोर्ट करेंगे।