समाचार
लंबी बीमारी के बाद रामविलास पासवान का निधन, बेटे चिराग ने ट्वीट कर दी जानकारी

लंबी बीमारी के बाद केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का गुरुवार (8 अक्टूबर) शाम को निधन हो गया। उनके बेटे और लोक जनशक्ति पार्टी अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्वीट करके यह जानकारी दी।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, चिराग ने अपने बचपन की एक तस्वीर ट्वीट की, जिसमें वह पिता रामविलास पासवान के पास खड़े हैं। उन्होंने लिखा, “पापा… अब आप इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन मुझे पता है कि आप जहाँ भी हैं, हमेशा मेरे साथ हैं।”

विगत कुछ सप्ताह से 74 वर्षीय रामविलास पासवान बीमार चल रहे थे। उनका उपचार दिल्ली के साकेत स्थित अस्पताल में चल रहा था। अभी कुछ दिनों पहले ही उनके दिल की सर्जरी हुई थी। उनके निधन की खबर से राजनीतिक जगत में शोक की लहर है। सभी दलों ने उनके गुज़रने पर दु:ख प्रकट किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “उनके जाने के दर्द को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। एक ऐसा शून्य हो गया है, जिसे शायद कभी नहीं भरा जा सकेगा। राम विलास जी का जाना यह व्यक्तिगत क्षति है। मैंने अपना दोस्त और मजबूत सहयोगी खो दिया।”

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, “देश ने एक विज़नरी नेता खो दिया है। वह संसद में सबसे सक्रिय और लंबे समय तक सेवा करने वाले सदस्यों में से एक थे। वह दबे-कुचलों की आवाज थे।”

बता दें कि रामविलास पासवान पिछले पाँच दशक से भी ज्यादा वक्त से राजनीतिक में सक्रिय थे और देश के सबसे बड़े दलित नेताओं में उनकी पहचान होती थी। उनके पास केंद्रीय खाद्य एवं आपूर्ति मंत्रालय था।