समाचार
अगस्ता वेस्टलैंड का आरोपी राजीव सक्सेना बना सरकारी गवाह, दर्ज कराना होगा बयान

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर के 3600 करोड़ रुपए के अर्थशोधन मामले में आरोपी राजीव सक्सेना को गुरुवार (28 फरवरी) दिल्ली अदालत ने अपना बयान 2 मार्च तक दर्ज करवाने का निर्देश दिया है। राजीव सक्सेना ने कुछ दिन पहले इस मामले में सरकारी गवाह बनने के लिए याचिका दाखिल की थी, लाइव हिंदुस्तान  ने रिपोर्ट किया।

न्यायाधीश ने राजीव सक्सेना से उनके सरकारी गवाह बनने की इच्छा पर उनसे पूछा, ”क्या आप जानते हैं कि सरकारी गवाह बनने के बाद भी आपको सज़ा हो सकती है?” सक्सेना ने इसका सकारात्मक जवाब देते हुए कहा, “मैंने काफी सेाच विचार किया है और मुझे यकीन है कि इस मामले में मेरा खुलासा न्यूनतम है। मेरा सहयोग नहीं करने का कोई इरादा नहीं है और इस चरण में यह तर्कसंगत है कि मैं अपनी गवाही निष्पक्ष तरीके से दूँ।”

राजीव सक्सेना ने आगे कहा कि उन्होंने अपनी मर्ज़ी से और मामले को ठीक प्रकार से समझते हुए सरकारी गवाह बनने का निर्णय लिया है। उन्हें न तो किसी प्रकार का कोई आश्वासन दिया गया है और ना ही उन्होंने किसी से कोई आश्वासन लिया है।

सक्सेना को 31 जनवरी को दुबई से भारत आने पर हिरासत में ले लिया गया था, पर अभी ब्लड कैंसर और अन्य बीमारियों के चलते उन्हें जमानत पर छोड़ा गया है।