समाचार
सचिन पायलट कर सकते हैं भाजपा अध्यक्ष से आज भेंट, 30 विधायकों के समर्थन की चर्चा

राजस्थान में कांग्रेस सरकार के उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने पार्टी के खिलाफ बागी तेवर अपना लिए हैं। जानकारी मिल रही है कि वह सोमवार सुबह भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ मुलाकात कर सकते हैं।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, सचिन पायलट का दावा है कि उनके साथ 30 विधायकों का समर्थन है। इनमें कांग्रेस और निर्दलीय विधायक शामिल हैं। अगर वह भाजपा का दामन थामते हैं तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार अल्पमत में आ जाएगी।

सूत्रों की मानें तो सचिन पायलट के साथ 27 कांग्रेस विधायक भाजपा में शामिल हो सकते हैं। तीन निर्दलीय विधायक भी उनका समर्थन कर रहे हैं। सुबह कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले विधानसभा अध्यक्ष को सचिन के समर्थक विधायक अपना त्याग-पत्र भेज सकते हैं।

सचिन पायलट ने भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी मुलाकात की थी। वह उनके आवास पर उनसे मिलने पहुँचे थे। दोनों नेताओं के बीच करीब 40 मिनट तक वार्ता चली। इसके बाद उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलों को और बल मिल रहा है।

उधर, राजस्थान सरकार में ट्रांसपोर्ट मंत्री प्रताप सिंह का कहना है, “अगर सचिन पायलट भाजपा के साथ जा रहे हैं तो वह पाप कर रहे हैं। हम भाजपा सरकार की शपथ नहीं लेने देंगे। हमारी सरकार बहुमत में है और 10.00 बजे तक हम यह दिखा देंगे।