समाचार
राहुल गांधी ने केरल में फिर बोला झूठ, मछुआरों के लिए किया समर्पित मंत्रालय का वादा

कांग्रेस नेता राहुल गांधी केरल में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर बुधवार (24 फरवरी) को कोल्लाम के थांगस्सेरी समुद्र तट पर मुछआरों से वार्ता करने के लिए पहुँचे। उन्होंने एक बार फिर से देश में मत्स्य पालन के लिए समर्पित मंत्रालय न होने वाले झूठ को दोहराया।

राहुल गांधी ने कहा, “मछुआरों को दिल्ली में सरकार द्वारा उपेक्षित किया जाता है। मैं पहली बात यही करूँगा कि हमारे सत्ता में आने के बाद भारत के मछुआरों के लिए समर्पित मंत्रालय की स्थापना की जाएगी।”

उन्होंने आगे कहा, “जैसे हमारे किसान भूमि पर खेती करते हैं, आप समुद्र पर खेती करते हैं। किसानों के पास दिल्ली में एक मंत्रालय है, आपके पास नहीं है। दिल्ली में कोई भी आपके लिए नहीं बोलता है।” इस दौरान उनके साथ कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल, रमेश चेन्निथला और मुल्लापल्ली रामचंद्रन भी मौजूद थे।

इसी तरह उन्होंने एक सप्ताह पूर्व भी पुदुचेरी के मछुआरों के सामने भी इसी तरह का वादा किया था। दोनों मौकों पर कांग्रेस नेता की मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्री गिरिराज सिंह ने सोशल मीडिया पर आलोचना की थी।

भाजपा के गिरिराज सिंह ने कहा था, “नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार द्वारा 2019 में मत्स्य पालन मंत्रालय का गठन पहले ही किया जा चुका है।” उन्होंने राहुल गांधी से नए मत्स्य मंत्रालय का दौरा करने का भी आग्रह किया, ताकि वे इसकी योजनाओं के बारे में जान सकें।