समाचार
वायुसेना प्रमुख भदौरिया ने बताया कि राफेल लड़ाकू विमानों से है चीनी शिविर में खलबली

भारतीय वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने आश्वस्त किया है कि राफेल लड़ाकू विमानों से चीनी शिविर में खलबली है, मिंट ने रिपोर्ट किया। हालाँकि उन्होंने यह भी बताया कि भारतीय दस्ता पड़ोसी देश की गतिविधियों और क्षमताओं के प्रति सचेत है।

“वे अपने जे-20 लड़ाकू विमान लेकर आए हैं (पूर्वी लद्दाख के निकट)। वायु शक्ति का यह लचीलापान है। जब भारत ने राफेल खरीदे तो उनका जे-20 वहीं था। हम उनकी गतिविधियों और क्षमताओं से अवगत हैं।”, एएनआई को एयर चीफ मार्शल ने कहा।

उन्होंने यह भी बताया कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर वार्ता जारी है। वायुसेना प्रमुख का मानना है कि यदि तनाव कम हो तो बेहतर होगा। उन्होंने कहा कि वार्ता पर सब कुछ निर्भर करता है और इसलिए ही उसपर काफी ध्यान केंद्रित किया जा रहा है।

भदौरिया ने बताया, “किसी भी नई परिस्थिति के लिए हम तैयार हैं।” उनके अनुसार चीनी पक्ष ने कुछ वायु तैनातियों को पीछे लिया है और समय-समय पर वे परिवर्तन भी करते रहे हैं। हालाँकि, भारत ने वायु रक्षा को और पुख्ता किया है।