समाचार
गोवा के तट पर कल से होगा क्वाड देशों का मालाबार नौसैनिक युद्धाभ्यास का दूसरा दौर

चार क्वाड देशों भारत, जापान, ऑस्ट्रेलिया और संयुक्त राज्य अमेरिका (अमेरिका) की नौसेना बल मंगलवार (17 नवंबर) को गोवा के तट पर मालाबार नौसैनिक युद्ध अभ्यास के दूसरे दौर को शुरू करने के लिए तैयार हैं।

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, भारत द्वारा एक दशक से अधिक समय बाद पहली बार मालाबार अभ्यास में हिस्सा लेने के लिए ऑस्ट्रेलिया को आमंत्रित किया गया है। यह अभ्यास इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह एक संभावित रणनीतिक गठबंधन में अनौपचारिक क्वाड समझौते के विकास को दर्शाता है।

इस विकास ने पहले ही राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व वाली चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) को विचलित कर दिया है। हालाँकि, भारत और ऑस्ट्रेलिया 2007 से तीव्र विरोधाभासों के बावजूद साथ काम कर रहे हैं। वहीं, कई देशों ने इस अभ्यास में भाग लिया था और अंततः चीनी विरोध के कारण उन्हें अपने कदम वापस खींचने पड़े थे। सीसीपी भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों पर लगातार मुँह से हमला कर रहा है, जो इस विकास के लिए चीनी बेचैनी को दर्शाता है।

ऑस्ट्रेलियाई रक्षा मंत्री लिंडा रेनॉल्ड्स ने हाल ही में नौसैनिक युद्धाभ्यास को न केवल चार लोकतंत्रों के बीच रणनीतिक विश्वास के प्रदर्शन के रूप में वर्णित किया बल्कि क्षेत्रीय सुरक्षा में योगदान करने की सामूहिक क्षमता को भी मजबूत किया।