समाचार
पुलवामा आतंकी हमला- संयुक्त राष्ट्र मसूद अज़हर को घोषित करे नामित आतंकवादी

जम्मूकश्मीर के पुलवामा में भारतीय सुरक्षा बलों पर कायरतापूर्ण आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हुए विदेश मंत्रालय ने कहा कि उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से आग्रह किया कि जैशमोहम्मद के प्रमुख मसूद अज़हर को नामित आतंकवादी घोषित किया जाए और पाकिस्तान में रह रहे आतंकवादी संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया जाए।

“यह जघन्य और घृणित कृत्य जैशमोहम्मद पाकिस्तान स्थित और समर्थित आतंकवादी संगठन एवं  संयुक्त राष्ट्र और अन्य देशों द्वारा वर्जित के द्वारा किया गया था। इस आतंकी समूह का नेतृत्व अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी मसूद अजहर कर रहा है जिसे पाकिस्तान के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में अपने आतंकी ढांचे के संचालन और विस्तार के लिए एवं भारत में और अन्य जगहों पर हमले करने के लिए पाकिस्तान सरकार द्वारा पूर्ण स्वतंत्रता दी गई है,” मंत्रालय ने बताया।

मंत्रालय ने कहा, ”हम संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 प्रतिबंध समिति के तहत नामित आतंकवादी के रूप में और जेएम के प्रमुख मसूद अजहर सहित आतंकवादियों को सूचीबद्ध करने के प्रस्ताव का समर्थन करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सभी सदस्यों के लिए अपनी अपील को दृढ़ता से दोहराते हैं और पाकिस्तान द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों में पल रहे आतंकवादी संगठनों पर भी प्रतिबंध लगाने की मांग करते हैं।

पाकिस्तान ने हमले के साथ संबंध का खंडन किया

हालाँकि पाकिस्तानी सरकार ने एक बयान जारी किया जिसमें आतंकवादी हमले के साथ किसी भी लिंक से इनकार किया गया और पुलवामा हमले कोगंभीर चिंता का विषयकरार दिया।

पाकिस्तान ने कहा कि हम भारतीय मीडिया और सरकार में ऐसे किसी भी आक्षेप को अस्वीकार करते हैं जो जाँच के बिना पाकिस्तान को हमले से जोड़ना चाहते हैं।

सीसीएस की बैठक आज

पीएम मोदी आज (15 फरवरी) को पुलवामा में हुए जघन्य हमले के बाद जम्मूकश्मीर में राष्ट्रीय सुरक्षा स्थिति का जायजा लेने के लिए सुरक्षा कैबिनेट समिति (सीसीएस) की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बैठक में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी शामिल होंगी और यह बैठक सुबह 9:15 बजे शुरू हुई।