समाचार
तुलसी गब्बार्ड को हिंदू-अमेरिकी होने पर गर्व लेकिन मीडिया को दिख रही कट्टरता

डेमोक्रेटिक पार्टी की कांग्रेस सदस्या और राष्ट्रपति पद की दावेदार तुलसी गब्बार्ड ने अपनी हिंदू पहचान पर गर्व जताते हुए कथित अभियान पर कटाक्ष किया है जो उनके धार्मिक विश्वास पर सवाल उठाते हुए उनपर धार्मिक कट्टरवाद का आरोप लगा रहा था, द न्यू इंडियन एक्सप्रेस  ने बताया।

गब्बार्ड, जो यूनाइटेड स्टेट्स (यूएस) कांग्रेस में पहली हिंदू प्रतिनिधि हैं, ने रिलीजियस न्यू सर्विसेज़ के संपादकीय के माध्यम से उनके अभियान के विरोध में चल रहे मीडिया अभियान पर आरोप लगाया है कि हिंदू अमेरिकीयों को बेबुनियादी कारणों से निशाना बनाया जा रहा है।

37 वर्षीय कांग्रेस सदस्या 11 जनवरी को अपनी राष्ट्रपति उम्मीदवारी घोषित कर ऐसा करने वाले बड़े नामों की पहली कतार में आ गईं।

अपने लेख में उन्होंने बताया कि कैसे उनपर हिंदू राष्ट्रवादी होने का आरोप लगाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनकी बैठक को इस मिथक के प्रचार हेतु प्रयोग में लाया जा रहा है। अपनी पहचान पर गर्व जताते हुए उन्होंने कहा, “मुझे गर्व है कि पहली हिंदू-अमेरिकी हूँ जो कांग्रेस के लिए चयनित हुई और राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवारी प्रस्तुत कर रही है।”