समाचार
सीएए का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी हुए हिंसक, संभल में सरकारी बस को लगाई आग

गुरुवार (19 दिसंबर) दोपहर को उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़क उठी। संभल जिले में प्रदर्शनकारियों द्वारा एक रोडवेज बस में आग लगा दी गई।

लखनऊ में जहाँ पुलिस समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन पर ध्यान केंद्रित कर रही थी, वहाँ लोग शहर के खदरा जैसे पुराने क्षेत्रों में बड़ी संख्या में सड़कों पर निकले और पुलिस पर पथराव किया।

जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने प्रभावित इलाकों में जाकर हालात का जायज़ा लिया। शहर के अन्य पुराने क्षेत्रों में भी तनाव व्याप्त है।

सीएए के खिलाफ गुरुवार को होने वाले विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए बुधवार (17 दिसंबर) की रात को ही पूरे उत्तर प्रदेश में धारा 144 लागू कर दी गई थी।

द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार राज्य के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने अभिभावकों से अपील की थी कि वे अपने बच्चों को किसी भी प्रदर्शन या मार्च में भाग लेने की अनुमति न दें अन्यथा वे कार्रवाई का सामना करेंगे।

सीएए के खिलाफ लगातार दो दिनों के विरोध के बाद बुधवार को आजमगढ़ जिले में 48 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएँ निलंबित कर दी गईं।

(इस समाचार को आईएएनस की सहायता से प्रकाशित किया गया है।)