समाचार
ओडिशा स्थित वेदांता प्लांट में पुलिस और प्रदर्शनकारियों में झड़प, दो लोगों की मौत

ओडिशा में कालाहांडी जिले में लांजीगढ़ में स्थित वेदांता लिमिटेड के एल्युमीनियम संयंत्र के बहार पुलिस कर्मियों और प्रदर्शनकारियों में  हिंसक झड़प हो गई। बताया जा रहा है कि इस झड़प में दो लोगों की मौत हो गई, वहीं कई लोग घायल भी हो गए है। मृतकों में एक प्रदर्शनकारी और एक पुलिसकर्मी के होने की खबर है।

लांजीगढ़ में प्रदर्शनकारियों ने रिफाइनरी परिसर में घुसने की कोशिश की जिसके विरोध में ओडिशा औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों ने उन्हें रोकने की कोशिश की जिस दौरान दोनों पक्षों में झड़प हो गई। इस हिंसक झड़प में एक पुलिसकर्मी को प्रदर्शनकारियों ने ज़िंदा जला दिया और उनकी मृत्यु हो गई।

पुलिस अधीक्षक बी गंगाधर ने बताया कि प्रदर्शनकारी पास के गांव के निवासी थे जो कि नौकरी एवं अन्य सुविधाओं की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे, साथ ही वह कंपनी द्वारा चलाए जा रहे विद्यालयों में अपने बच्चों को पढ़ाने की मांग भी कर रहे थे। जब प्रदर्शनकारियों को परिसर में घुसने से रोका गया तो उन्होंने पथराव करना शुरू कर दिया।

वहीं एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया जिसमें लगभग 20 लोग घायल हो गए और एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई। अधिकरी ने अमर उजाला  को यह भी बताया कि प्रदर्शनकारियों ने रिफाइनरी में तोड़फोड़ भी कि और झड़प में ओआईएसएफ के सुजीत कुमार मिंज को ज़िंदा जला दिया।

वहीं एक प्रदर्शनकारी ने बताया कि वे लोग शांतिपूर्वक धरना कर रहे थे जब पुलिस ने उनको हटाने के लिए उनपर लाठीचार्ज शुरु कर दिया जिसमें दानी बत्रा नामक एक प्रदर्शनकरी की मृत्यु हो गई।