समाचार
प्रियंका गांधी के काफिले ने उप्र के बाराबांकी में 20-30 गाड़ियों का नहीं भरा टोल

उत्तर प्रदेश के बाराबांकी में एक टोल नाके के प्रबंधक ने यह आरोप लगाया है कि प्रियंका गांधी वाड्रा के काफिले बाराबांकी के इस टोल नाके पर टोल नहीं भरा और पूरा काफिला ऐसे ही चला गया। यह मामला उस समय का है जब प्रियंका गांधी अयोध्या के बाद लखनऊ जा रहीं थी, इंडिया टुडे  ने रिपोर्ट किया।

बाराबंकी के टोल से गुज़रते हुए प्रियंका गांधी और ऊके साथी नेताओं ने टोल नहीं भरा। टोल नाका के प्रबंधक ने बताया कि कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेता इतने उत्साहित थे कि गेट खुला देख वह सभी बिना टोल भरे ही निकल गए।

अहमदपुर टोल नाका के उप-प्रबंधक विक्रम सिंह ने इस घटना के लिए शासन प्रबंधन को ज़िम्मेदार ठहराया है।

सिंह ने कहा कि इस काफिले में 20 से 30 गाड़ियां शामिल थीं, और इनमें पांच से छह गाड़ियां पुलिस की थी।  और साथ ही कहा कि टोल नाके के गेट खुले रखने के लिए उन्हें शासन प्रबंधन ने कहा था।

विक्रम सिंह ने आगे कहा कि “हमें शासन प्रबंधन की तरफ से टोल नाके का एक गेट वीआईपी के लिए खुले रखने के आदेश थे, और इस दायरे में सिर्फ सांसद और विधायक आते हैं”।