समाचार
कृषि कानूनों को वापस न करके नरेंद्र मोदी ने जनता का भरोसा तोड़ा- प्रियंका गांधी वाड्रा

उत्तर प्रदेश में बिजनौर के चांदपुर में सोमवार (15 फरवरी) को किसानों को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, “कृषि कानूनों को किसानों के लिए नहीं बल्कि खरबपतियों के लिए लागू किया गया है। किसान 80 दिन से दिल्ली सीमा पर बैठे हुए हैं लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानूनों को वापस लेने के लिए तैयार नहीं हैं। उन्होंने जनता का भरोसा तोड़ दिया है।”

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, प्रियंका गांधी ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने दूसरे चुनाव में रोजगार का वादा किया था लेकिन अब तक कुछ नहीं किया। उन्होंने किसानों के गन्ना बकाया का भी भुगतान नहीं करवाया। 16,000 करोड़ रुपये के दो हवाई जहाज खरीदे गए लेकिन किसानों के गन्‍ना भुगतान के लिए उनके पास पैसे नहीं हैं।”

कांग्रेस नेता ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी के पास तमाम योजनाओं के लिए पैसे हैं लेकिन किसानों के लिए नहीं हैं। मुझे समझ में नहीं आ रहा कि जब किसान ही मना कर रहा है तो फिर क्यों कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जा रहा है। जमाखोरी को खत्म करने के लिए जवाहरलाल नेहरू ने कानून बनाया था लेकिन अब फिर जमाखोरी होने लगी है।”

प्रियंका गांधी ने आखिर में कहा, “नरेंद्र मोदी चीन का दौरा करते हैं लेकिन दो से तीन किलोमीटर जाकर किसानों से बात नहीं कर रहे हैं। वह संसद में खड़े होकर किसानों का मज़ाक बना रहे हैं। वह जिस किसान का अपमान कर रहे हैं, उनके ही बेटे सीमा पर तैनात हैं।”