समाचार
धारा 370 के ऐतिहासिक निर्णय के बाद परसों राष्ट्र को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार (7 अगस्त) को केंद्र सरकार के अनुच्छेद 370 को रद्द करने के ऐतिहासिक निर्णय पर राष्ट्र को संबोधित कर सकते हैं।

पत्रकार शिव अरूर की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले उच्च सदन में विवादास्पद धारा 370 को जम्मू-कश्मीर से खत्म करने का प्रस्ताव गृहमंत्री अमित शाह ने रखा था। इस प्रस्ताव पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी हस्ताक्षर कर दिए।

केंद्र सरकार के इस कदम का शिवसेना, बीजद और बसपा ने समर्थन किया है। वहीं, कांग्रेस, जद (यू), कश्मीरी दलों नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) और पीडीपी ने इसका विरोध किया है।

17वीं लोकसभा के अपने घोषणा पत्र में भाजपा ने वादा किया था कि अगर वे सत्ता में वापस आते हैं तो जम्मू-कश्मीर से इस विवादित धारा को समाप्त करवा देंगे। भाजपा ने अपने वादे को सोमवार को पूरा कर दिया।