समाचार
हार का मूल्य- कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान का खर्च 20 करोड़, भारत का 1 रुपये

सेवानिवृत्त नौसैनिक अधिकारी कुलभूषण जाधव के मामले में अंतर्राष्ट्रीय न्याय न्यायालय (आईसीजे) से मिले झटके के बाद पाकिस्तान एक ऐसे देश के रूप में उभरा है जिसने इस न्यायिक मामले के लिए 20 करोड़ रुपये खर्च किए हैं, द न्यू इंडियन एक्सप्रेस  ने रिपोर्ट किया।

दूसरी तरफ भारत का हेग में प्रतिनिधित्व करने वाले हरीश साल्वे ने मात्र 1 रुपये की सांकेतिक राशि ली थी, जबकि उनका प्रति दिन शुल्क 30 लाख रुपये है। पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व यूएस आधारित वकील खावर क़ुरैशी ने किया था। क़ुरैशी को दी गई राशि का खुलासा बजट दस्तावेज से हुआ जो पाकिस्तानी सरकार ने सभा के समक्ष पिछले वर्ष रखा था।

कल सुनाए गए निर्णय में न्यायालय ने माना कि 8 मई 2017 में भारत द्वारा दर्ज की गई याचिका इसके कार्यक्षेत्र में है और भारत की याचिका को पाकिस्तान की खारिज करने की दलील को ठुकरा दिया।

यह भी माना गया कि पाकिस्तान ने विएना कन्वेंशन का उल्लंघन किया है और पाकिस्तानी मिलट्री कोर्ट द्वारा जाधव को दिए गए मृत्युदंड की समीक्षा की जानी चाहिए।