समाचार
बजट सत्र के अभिभाषण में रामनाथ कोविंद बोले- “सीएए ने पूरा किया बापू का सपना”

बजट सत्र के पहले चरण की शुरुआत शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सीएए के समर्थन के साथ की। उन्होंने अपने अभिभाषण में कहा, “सीएए से महात्मा गांधी का सपना पूरा हुआ है।” इसके अलावा, उन्होंने अनुच्छेद 370 और राम मंदिर निर्माण के आए फैसले की प्रशंसा की।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, रामनाथ कोविंद ने कहा, “यह दशक हमारे लिए अहम है। इसमें नई ऊर्जा के साथ भारत के निर्माण को गति देनी है। सरकार के प्रयासों से इस सदी को बेहतर बनाने की नींव रखी जा चुकी है।”

राष्ट्रपति ने कहा, “मेरी सरकार यह साफ करती है कि भारत में आस्था रखने वाले और यहाँ की नागरिकता लेने के इच्छुक दुनिया के सभी पंथों के व्यक्तियों के लिए जो प्रक्रियाएँ पहले थीं, वे आज भी वैसी ही हैं।

रामनाथ कोविंद ने कहा, “विभाजन के बाद बने माहौल में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कहा था कि पाकिस्तान के हिंदू और सिख, जो वहाँ नहीं रहना चाहते, वे भारत आ सकते हैं। उन्हें सामान्य जीवन देना भारत सरकार का कर्तव्य है। दोनों सदनों में नागरिकता संशोधन कानून बनाकर राष्ट्रपिता की इच्छा को पूरा किया गया है।”

उन्होंने कहा, “अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाना एक ऐतिहासिक फैसला था। इससे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का विकास भी तेजी से होगा। रामजन्म भूमि के फैसले पर राष्ट्रपति ने कहा, “इस फैसले पर देश की जनता ने जैसी परिपक्वता दिखाई है, वो काबिल-ए-तारीफ है।”

बजट सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संवाददाताओं से कहा, “इस सत्र में ज़्यादातर आर्थिक विषयों पर चर्चा होगी। यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि वैश्विक आर्थिक परिस्थितियों का भारत किस प्रकार फायदा उठा सकता है।”