समाचार
पंजाब में चुनाव से एक वर्ष पूर्व ही मई में अपनी टीम संग डेरा डाल सकते हैं प्रशांत किशोर

पंजाब में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के मुख्य सलाहकार के रूप में प्रशांत किशोर को नियुक्त किया गया था। अब कहा जा रहा है कि राज्य में विधानसभा चुनाव से एक वर्ष पूर्व वह मई में अपनी टीम के साथ वहाँ डेरा डाल सकते हैं।

द न्यू इंडिया एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, प्रशांत किशोर और उनकी टीम सरकार के प्रदर्शन के बारे में आम जनता से राय लेंगे। साथ ही सत्ताधारी पार्टी के विधायकों के गत 5 वर्ष का रिपोर्ट कार्ड तैयार कर सकते हैं। कहा जा रहा है कि कुछ दिनों पहले ही किशोर ने सत्तारूढ़ कांग्रेस के पहली बार बने विधायकों और पार्टी के वरिष्ठ विधायकों से मुलाकात की। उन्होंने कथित तौर पर उनसे कहा था कि नौकरशाही सरकार चला रही है।

किशोर ने कथित तौर पर जिला-स्तर के अधिकारियों से प्रतिक्रिया भी लेनी शुरू कर दी है, जिनसे लोग असंतुष्ट हैं। यह माना जा रहा है कि प्रशांत किशोर पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। दरअसल, नवजोत सिंह सिद्धू कुछ समय से पंजाब की राजनीति से गायब हैं।

कहा यह भी जा रहा है कि हाल ही में उन्होंने मुख्यमंत्री के फार्म हाउस पर उनसे भेंट की थी। अमरिंदर ने अपने राजनीतिक सचिव संदीप सिंह संधू और उनके पोते निर्वाण सिंह, जो उनके बंगले के पास रहते हैं, उनसे प्रशांत किशोर से समन्वय स्थापित करने के लिए कहा है।

चुनावी रणनीतिकार के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए एक आईएएस अधिकारी से भी कहा गया है। सूत्रों ने कहा कि किशोर की टीम 2017 की टीम से बड़ी होगी, जिसमें लगभग 250 लोगों ने काम किया था।