समाचार
पुलिस ने न्यायालय से माँगी शशि थरूर पर हत्या का केस चलाने की अनुमति

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर की मुसीबत बढ़ने लगी हैं। दिल्ली पुलिस ने सुनंदा पुष्कर की आत्महत्या मामले में उनके खिलाफ हत्या का आरोप लगाने के लिए एक सीबीआई न्यायालय का रुख किया है।

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहर से भारतीय दंड संहिता की धारा 498-ए, 306 और 302 के तहत थरूर के खिलाफ आरोप तय करने का आग्रह किया है। पुलिस ने थरूर पर पुष्कर को प्रताड़ित करने का भी आरोप लगाया है।

पुलिस अधिकारियों ने पुष्कर के दोस्त नलिनी सिंह द्वारा किए गए दावे के आधार पर आरोप लगाया है कि थरूर ने पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के साथ दुबई में तीन रातें भी बिताईं। सरकारी वकील अतुल श्रीवास्तव ने थरूर पर मानसिक प्रताड़ना का भी आरोप लगाया और दावा किया कि इससे पुष्कर ने आत्महत्या कर ली।

17 जनवरी 2014 को दिल्ली के चाणक्यपुरी स्थित होटल लीला के एक कमरे में सुनंदा पुष्कर मृत पाई गई थी। अधिकारियों का दावा है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पुष्कर को जहर देकर मारने की बात सामने आई है। रिपोर्ट में उसके शरीर के विभिन्न हिस्सों पर 15 चोटों के निशान भी बताए गए हैं जिनमें पैर, हाथ भी शामिल हैं।

अभियोजक अतुल श्रीवास्तव ने न्यायालय को यह भी बताया कि पुष्कर थरूर के पाकिस्तान स्थित पत्रकार मेहर तरार के साथ संबंध को लेकर नाराज था। फिलहाल, शशि थरूर इस मामले में जमानत पर चल रहे हैं। पिछले साल 17 अक्टूबर को उनके खिलाफ एक न्यायालय में इस मामले को सूचिबद्ध किया गया था।