समाचार
हर मंत्रालय को पाँच साल की योजना तैयार करने का निर्देश, 100 दिनों में मिले मंज़ूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्रालयों के शीर्ष नौकरशाहों के साथ अगले पाँच साल की योजनाओं को लेकर बैठक की। उन्होंने कहा, “हर मंत्रालय के लिए पाँच साल की योजना तैयार की जाए। जनता हमें बदलाव और विकास के लिए फिर से लाई है। हमें लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने पर ध्यान देना होगा।”

दैनिक भास्कर  की रिपोर्ट के अनुसार, बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण और जितेंद्र सिंह भी मौजूद थे। नरेंद्र मोदी ने कहा, “भारत का मकसद पाँच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य प्राप्त करना होगा। इसके लिए एक रोडमैप तैयार करना होगा।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “हर मंत्रालय को अपनी योजनाओं को लेकर महत्त्वपूर्ण फैसले लेने होंगे और उन्हें 100 दिनों में उन्हें मंज़ूरी देनी होगी। भारतीय अर्थव्यवस्था में प्रत्येक विभाग केंद्र सरकार और हर एक जिला राज्य सरकार की तरह भूमिका निभाता है। मेक इन इंडिया के लिए सभी को मिलकर ईमानदारी के साथ काम करना होगा।”

मोदी ने अधिकारियों से तकनीक का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने की अपील की। उन्होंने कहा, “इससे काम में तेजी आएगी और भ्रष्टाचार कम होगा। इस दौरान विभिन्न विभागों के सचिवों ने भी अपने विचार साझा किए।”