समाचार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल को देश की जनता से मांगे नौ मिनट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार सुबह राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में जनता से 5 अप्रैल को रात नौ बजे घरों की बत्तियाँ बुझाकर दीया, टॉर्च, मोमबत्ती या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने का आग्रह किया है। इसका मकसद यह उजागर करना होगा कि भारत एकजुट होकर कोरोनावायरस से लड़ रहा है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री ने कहा, “इस रविवार को इस मुश्किल दौर को चुनौती देना है।  उस प्रकाश की ताकत का परिचय कराना है। इसके लिए मैं बस आप सबके नौ मिनट चाहता हूँ।”

उन्होंने कहा, “चारों तरफ हर व्यक्ति जब एक-एक दीया जलाएगा तो प्रकाश की उस महाशक्ति का अहसास होगा, जिसमें यह उजागर होगा कि हम एक ही मकसद से एकजुट होकर लड़ रहे हैं। उस उजाले में संकल्प लेना होगा कि हम अकेले नहीं है।” हालाँकि, इस दौरान उन्होंने किसी भी तरह की भीड़ के एकत्रित न होने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर इस आयोजन को पूरा करने की अपील की।

नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, “कोविड-19 की महामारी से फैले अंधकार के बीच हमें प्रकाश की ओर जाना है। इससे सबसे अधिक प्रभावित हमारे गरीब भाई-बहनों को निराशा से आशा की ओर ले जाना है। इस संकट को पराजित करने के लिए प्रकाश के तेज को चारों दिशाओं में फैलाना है।”