समाचार
ऑक्सीजन को लेकर प्रधानमंत्री ने की बैठक, “जमाखोरों पर कार्रवाई करें राज्य सरकारें”

देश में ऑक्सीजन की कमी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (22 अप्रैल) को उच्चस्तरीय बैठक में इस बारे में चर्चा की। उन्होंने कहा, “जमाखोरी करने वालों से राज्य सरकारों को सख्ती से निपटना चाहिए।” वहीं, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ऑक्सीजन गाड़ियों के संचालन में किसी तरह की कोई रोक नहीं लगाने के निर्देश दिए हैं।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री की बैठक में इसके सही उपयोग की आवश्यकता पर बल दिया गया। इस दौरान चर्चा की गई कि ऑक्सीजन टैंकर्स को लंबी दूरी तक बिना रुके पहुँचाने के लिए रेलवे का उपयोग किया जा रहा है। खाली टैंकर्स को हवाई मार्ग से लाया जा रहा है, ताकि यात्रा का समय बचाया जा सके।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से बताया गया कि बैठक में कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, गृह सचिव, स्वास्थ्य सचिव के अलावे वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय, सड़क एवं परिवहन मार्ग मंत्रालय, मेडिकल क्षेत्र से और नीति आयोग के अधिकारी शामिल थे।

उधर, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने स्पष्ट निर्देश दिए कि परिवहन प्राधिकरणों को कहा जाएगा कि वे ऑक्सीजन को लेकर जा रही गाड़ियों का अंतरराज्यीय संचालन निःशुल्क करें। साथ ही कहा गया कि इसके निर्माता और आपूर्तिकर्ता के ऊपर यह रोक नहीं लगाई जा सकती है कि वे सिर्फ उसी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश को ऑक्सीजन दें, जहाँ पर उसका उत्पादन किया जा रहा है।