समाचार
मोदी सरकार के चार वर्षों में प्रति व्यक्ति आय में 45 प्रतिशत की वृद्धि- सीएसओ

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा जारी किए गए डाटा के अनुसार पिछले चार वर्षों में प्रति व्यक्ति आय में 45 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, बिज़नेस स्टैंडर्ड  ने रिपोर्ट किया। इसके अलावा पिछले सात वर्षों यानि 2011-12 से 2018-19 तक प्रति व्यक्ति आय दोगुनी हो गई है। 2011-12 में जहाँ प्रति व्यक्ति वार्षिक आय जहाँ 63,642 रुपए थी, वही अब 1.25 लाख रुपए हो गई है।

“प्रति व्यक्ति राष्ट्रीय आय 2018-19 में 1,25,389 रुपए अनुमानित की गई है जो कि 2017-18 में 1,12,835 रुपए से 11.1 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाती है और वृद्धि दर 8य6 प्रतिशत है।”, सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा जारी किए गए कथन में उल्लेखित था।

हालाँकि वास्तविक रूप (2011-12 के मूल्यों के परिदृश्य) से देखा जाए तो यह आए 91,921 रुपए की होगी। वास्तविक प्रति व्यक्ति आय सामान्य आँकड़ों में से महंगाई को निकालकर जोड़ी जाती है। ध्यान देने योग्य तथ्य यह भी है कि 2014-15 और 2016-17 के बीच भारत में आय वृद्धि की दर भूटान, नेपाल, चीन, बांग्लादेश और पाकिस्तान जैसे पड़ोसी देशों से कम रही है। भारत केवल श्रीलंका से आगे था।