समाचार
अयोध्या के हिंदू बहुल राजापुर गाँव ने सात प्रत्याशियों में से एकमात्र मुस्लिम को चुना प्रधान

अयोध्या के एक हिंदू बहुल राजापुर गाँव के ग्रामीणों ने अपने क्षेत्र के एक अकेले मुस्लिम परिवार के हाफिज़ अजीमुद्दीन को अपना प्रधान बनाया है। वह गाँव से करीब 200 मत हासिल करके प्रधान चुने गए हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने छह प्रत्याशियों को पछड़ा है, जो सभी बहुमत समुदाय से थे। वह इस जीत को अपना ईद का उपहार मानते हैं। साथ ही उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय हिंदुओं को दिया है।

राजापुर गाँव अयोध्या के रुदौली विधानसभा क्षेत्र में आता है। पेशे से किसान अजीमुद्दीन ने इस्लामिक मदरसे से हाफिज़ और आलिम की डिग्री भी हासिल की है। उन्होंने 10 वर्ष तक एक मदरसे में भी पढ़ाया और फिर अपने परिवार के पारंपरिक व्यवसाय में शामिल हो गए। वे अपनी 50 बीघा भूमि में अनाज, सब्जियाँ और फल की खेती करते हैं।

स्थानीय निवासी गिरीश रावत कहते हैं, “हमने धर्म के आधार पर वोट नहीं दिया है। हमने सिर्फ यह ध्यान रखा कि हमारे लिए अच्छा क्या है। हमने मुस्लिम प्रधान को चुनकर स्पष्ट संदेश देने की कोशिश की कि हम सभी धर्मों का समान रूप से सम्मान करते हैं।”

अयोध्या मस्जिद ट्रस्ट के सचिव अतहर हुसैन ने कहा, “अजीमुद्दीन का जीतना ये बताता है कि भारत में तमाम चुनौतियों के बावजूद सभी धर्मों में आपसी प्रेम बरकरार है। यही हमारे देश की असल ताकत है।”

अजीमुद्दीन कहते हैं, “मुझे यकीन है कि मैंने जिन 200 वोटों को हासिल किया, उनमें से केवल 27 मुसलमान ही हो सकते हैं। बाकी वोट मुझे हिंदुओं की ओर से मिले हैं, जिन्होंने मुझपर विश्वास दिखाया है।”