समाचार
तालिबान के सुरक्षित ठिकानों को बंद करने के लिए पाकिस्तान के संपर्क में हैं- पेंटागन

पेंटागन ने कहा कि तालिबान द्वारा स्वयं को उभारने और संगठन में नई जान डालने के लिए उपयोग किए जाने वाले सुरक्षित ठिकानों को कैसे बंद किया जाए। इस मुद्दे पर अमेरिका पाकिस्तान के संपर्क में है।

दि इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, पेंटागन के सचिव जॉन किर्बी ने गुरुवार (8 जुलाई) को कहा, “सीमा पर ऐसे “ठिकाने बहुत पहले से ही समस्या बने रहे हैं। इसे लेकर कोई सवाल नहीं है। हम जानते हैं कि तालिबान उन ठिकानों का उपयोग स्वयं को सशक्त करने, फिर से प्रशिक्षित करने, स्वयं को फिर से उभारने, षड्यंत्र रचने के लिए कर सकता है।

उन्होंने कहा, “यही वजह है कि हम लगातार पाकिस्तान के संपर्क में हैं। इस समस्या से यह पड़ोसी देश स्वयं पीड़ित है और हम इस विषय पर उनके साथ काम करना जारी रखेंगे।” हालाँकि, उन्होंने पाकिस्तान के साथ अमेरिका की बातचीत का ब्योरा नहीं दिया।

किर्बी ने कहा, “यह एक कठिन समस्या है। हम जानते हैं कि अभी और काम किए जाने की आवश्यकता है। हम अपने पाकिस्तानी समकक्षों के साथ इस विषय पर वार्ता करनी जारी रखेंगे।

बता दें कि पेंटागन की यह यह टिप्पणी तब आई, जब राष्ट्रपति जो बाइडन ने घोषणा कर दी कि 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी का काम पूरा हो जाएगा।