समाचार
यदि अफगानिस्तान में आवश्यकता पड़ी तो ड्रोन हमले करना जारी रखेंगे- पेंटागन

अमेरिका ने तालिबान को चेतावनी देते हुए कहा कि भले अफगानिस्तान में उसकी उपस्थिति समाप्त हो गई हो लेकिन इस्लामिक स्टेट-खुरासान प्रांत (आईएसआईएस-के) और देश के भीतर अन्य के विरुद्ध आवश्यकता पड़ने पर वह ड्रोन हमले करना जारी रखेगा।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने कहा, “यदि भविष्य में कोई खतरा उत्पन्न होता है तो हम ड्रोन हमलों का उपयोग करते रहेंगे।”

किर्बी ने एक साक्षात्कार में कहा, “हमारे पास अपने राष्ट्रीय हितों की रक्षा और बचाव के लिए पूरी क्षमता है। भविष्य के संचालन के बारे में अनुमान लगाए बिना हम उन क्षमताओं को बनाए रखना जारी रखेंगे और आवश्यकता पड़ने पर उनका उपयोग करेंगे।”

अफगानिस्तान में 20 वर्ष के युद्ध को समाप्त करने पर देश को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा था,  “काबुल हवाई अड्डे पर धमाका करने के दोषी आईएसआईएस-के से अभी बदला पूरा नहीं हुआ है। अमेरिका का जो लोग क्षति पहुँचाना चाहते हैं, उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी।”