समाचार
पायल तड़वी आत्महत्या मामला- पुलिस ने तीन वरिष्ठ महिला डॉक्टरों को किया गिरफ्तार

पिछले बुधवार (22 मई) को 26-वर्षीय पायल तड़वी ने आत्महत्या कर ली थी जिसके बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। कहा जा रहा है कि पेशे से डॉक्टर पायल ने इन तीन महिलाओं के जातिवादी उपेक्षाओं से परेशान होकर आत्महत्या की है।

ये तीनों डॉक्टर मुंबई के नायर अस्पताल में पायल के वरिष्ठ थे। भक्ति मेहेरे को मंगलवार (28 मई) दोपहर, मंगलवार रात को हेमा अहुजा और बुधवार (29 मई) सुबह को अग्रीपाड़ा पुलिस ने अंकिता खंडेलवाल को बंदी बना लिया। ये तीनों पायल की आत्महत्या के बाद फरार हो गए थे।

पायल के परिजनों ने आरोप लगाया था कि उसके वरिष्ठ पायल पर रैगिंग द्वारा अत्याचार और अनुसूचित जाति की होने पर अपने शब्दों से उसकी प्रतिष्ठा को हानि पहुँचाते थे। तीनों पर अनुसूचित जाति और जनजाति अधिनियम, रैगिंग-विरोधी अधिनियम, आईटी एक्ट और आईपीसी की धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया गया है।